शुभ मुहूर्त में पूजा से मिलेगा शुभ फल 

संकष्टी चतुर्थी पर करें गणपति की पूजा 

संकष्टी चतुर्थी आज है। इसे गणपति संकष्टी
चतुर्थी भी कहते हैं। संकष्टी चतुर्थी गणेश
भगवान को समर्पित है। 

संकष्टी चतुर्थी 12 नवंबर की रात 10:25 तक
रहेगी। दोपहर 1 बजकर 26 मिनट से शाम
4 बजकर 8 मिनट तक पूजा का शुभ मुहूर्त है। 

पौराणिक मान्यता के अनुसार, संकष्टी चतुर्थी
 के दिन व्रत रखने से जीवन में आने वाली
बाधाएं नष्ट होती हैं और सुख-समृद्धि आती है। 

संकष्टी चतुर्थी के दिन गणेश भगवान की
पूजा के साथ शाम को चंद्रमा को अर्घ्य देकर
 व्रत खोला जाता है। 

लाइफ & स्टाइल की और
 स्टोरीज के लिए क्लिक करें

Click Here