हिमाचली टोपी

पहाड़ियों की पहचान

रंग-बिरंगी हिमाचली टोपी शादियों, त्योहारों
और स्टाइल के लिए पहनी जाती है। 

हिमाचली टोपी को हिमालय ब्रह्म कमल
ब्रोच, मोर पंख या गेंदा फूल से सजाते हैं।

यह टोपी किन्नौर से लेकर पूर्व की रियासत
बुशहर राज्य के कुछ हिस्सों में पहनी
जाती थी, जहां से ये प्रवासियों के जरिए
हिमाचल तक आ पहुंची।

जगह के नाम के पॉपुलर इन्हें कुल्लूवी, बुशहरी, किन्नौरी, लाहौली टोपी भी कहते हैं।

लाइफ & स्टाइल स्टोरीज
के लिए क्लिक करें

Click Here