बिहार सबसे पीछे

दवा खाने में केरल नंबर 1

केरल में हर वर्ष प्रति व्यक्ति दवा पर खर्च
2,567 रुपए है जो पूरे देश में सबसे अधिक है।
इनमें से 88 प्रतिशत से अधिक
दवाएं डॉक्टर प्रिस्क्राइब करते हैं।

बिहार में प्रति व्यक्ति दवा पर खर्च 298 रुपए है
जो देश में सबसे कम है। असम, छत्तीसगढ़,
उत्तराखंड, कर्नाटक और गुजरात में भी यह
खर्च 400 से 600 रुपए के बीच है।

हिमाचल प्रदेश, पश्चिम बंगाल, पंजाब, उत्तर प्रदेश
और केरल डॉक्टर के प्रिस्क्रिप्शन पर दवा लेने में
आगे हैं। असम, उत्तराखंड, बिहार, तमिलनाडु और
कर्नाटक बिना पर्ची के दवा खाने में टॉप पर हैं।

भारत ने 1,46,220 करोड़ की दवाओं का
निर्यात 2021-22 में किया है। 42,943 करोड़
की दवा का 2021-22 में आयात भी किया
गया है। अमेरिका और चीन के बाद भारत दवा
उत्पादन में तीसरा सबसे बड़ा देश है।

जापान, चीन और दक्षिण कोरिया के बाद
मेडिकल डिवाइस बनाने वाले एशियाई देशों में
भारत चौथे स्थान पर है। कोविड के बाद से
भारत वेंटिलेटर निर्यात करने में आगे रहा है।

लाइफ & स्टाइल स्टोरीज
के लिए क्लिक करें

Click Here