रोज 10 लाख लोग हो रहे सेक्शुअली
ट्रांसमिटेड इन्फेक्शंस का शिकार

बिना इंटरकोर्स
भी हो सकता है STI

चूमने, संक्रमित खाना और कपड़ों
से भी गोनोरिया, हर्पीज, हेपेटाइटिस, क्लैमिडिया
और सिफलिस जैसी सेक्शुअली ट्रांसमिटेड
डिजीज हो सकती हैं।

वेजाइनल, एनल और ओरल सेक्स
के जरिए 30 से ज्यादा तरह के बैक्टीरिया,
वायरस और पैरासाइट्स एक से दूसरे
इंसान में पहुंचते हैं।

हर साल 37.40 करोड़ लोगों को गोनोरिया,
क्लैमिडिया, सिफलिस जैसे रोग होते हैं। 15 से 49
साल के 50 करोड़ लोगों को हर्पीज वायरस
(HSV) का इन्फेक्शन है।

ह्यूमन पैपिलोमा वायरस (HPV) के
इन्फेक्शन से होने वाला सर्वाइकल कैंसर दुनिया
में हर साल 3 लाख लोगों की जान ले लेता है।

STI से इन्फर्टिलिटी, कैंसर और प्रेग्नेंसी से
जुड़ी समस्याएं हो सकती हैं। हेपेटाइटिस-बी,
हर्पीज सिंप्लेक्स वायरस, HIV और HPV
आज भी लाइलाज हैं।

लाइफ & स्टाइल की और
स्टोरीज के लिए क्लिक करें

Click Here