800 करोड़ लोगों में सिर्फ 45 के पास 

गोल्ड से कीमती एक बूंद खून 

A+, A-, B+, B-, O+, O-, AB+, AB- ब्लड ग्रुप
के अलावा रेयर ब्लड ग्रुप जिसे गोल्डन ब्लड
कहते हैं, 800 करोड़ लोगों में सिर्फ 45 के पास है।

गोल्डन ब्लड को आरएच नल
(Rh null) भी कहते हैं। पूरी दुनिया में इसके
सिर्फ 9 डोनर हैं। इसी कारण 1 बूंद खून
की कीमत 1 ग्राम सोने से ज्यादा है। 

जिस इंसान की बॉडी में Rh फैक्टर
null होता है, उसी में गोल्डन ब्लड होता है।
ग्रुप जेनेटिक म्युटेशन की वजह से यह
सिर्फ कुछ ही लोगों में है। 

आमतौर पर इंसान के ब्लड  का Rh
पॉजिटिव या नेगेटिव होता है, लेकिन गोल्डन
ब्लड कैरियर का Rh फैक्टर null होता है। 

गोल्डन ब्लड ग्रुप वाले इंसानों के शरीर
में हीमोग्लोबिन की कमी होती है। इसकी वजह
से शरीर में पीलापन और रेड ब्लड सेल्स
कम होने का खतरा बना रहता है। 

अगर आपका गोल्डन ब्लड ग्रुप है तो सेंट्रल
ब्लड रजिस्ट्री में अपना नाम दर्ज कराएं ताकि
जरूरत पड़ने पर आप किसी की हेल्प कर पाएं
और आपको भी मदद मिल सके। 

लाइफ & स्टाइल की और
स्टोरीज के लिए क्लिक करें

Click Here