कालाधन रोकने को बंद हुए थे 500-1000 के नोट

नोटबंदी के 6 साल, कहां
गए 2 हजार के नोट

आज से 6 साल पहले 8 नवंबर को 500 और
1000 रुपए के नोट यानी करीब 15.52 लाख
करोड़ रुपए अर्थव्यवस्था से बाहर हो गए थे। 

फिर आरबीआई ने 500 रुपए के
नए और 2000 रुपए के बड़े नोट जारी किए।
इनमें से 500 वाले नोट तो मार्केट में हैं,
लेकिन 2000 वाले गायब हो गए। 

देश में साल 2017-18 के दौरान 2000
के नोट सबसे ज्यादा चलन में रहे। तब बाजार
में 2000 के 33,630 लाख नोट थे, जिनकी
संख्या साल दर साल कम होती गई।

अब लगभग ये नोट चलन से बाहर
हो गए हैं। RBI का कहना है कि 2000 को
नोट लोग पसंद नहीं करते इसलिए 2019 में
ही इसे छापना बंद कर दिया था। 

हालांकि एक्सपर्ट मानते हैं कि काले
धन में सबसे ज्यादा इस्तेमाल 500 और 2000
के नोटों का होता है। शायद इसी वजह से 2019
से 2000 के नोटों की छपाई बंद है।

लाइफ & स्टाइल की और
स्टोरीज के लिए क्लिक करें

Click Here