मनी ट्रांसफर और इंस्टाग्राम
चैटिंग से मिला पुलिस को क्लू

तारीख गलत बताने के कारण पकड़ा गया आफताब

श्रद्धा वॉकर मर्डर केस इन दिनों चर्चा
का विषय बना हुआ है। आफताब ने दिल्ली
पुलिस को चकमा देने की बहुत कोशिश की,
लेकिन वो कामयाब नहीं हो पाया।

मनी ट्रांसफर डिटेल, इंस्टाग्राम चैटिंग और
गलत डेट बताने के कारण पुलिस को इस मर्डर
केस को सुलझाने का क्लू मिलता गया।

आफताब ने अपने बयान में कहा कि
झगड़े के बाद श्रद्धा 22 मई को घर छोड़कर
चली गई। अपने साथ वो सिर्फ फोन लेकर गई
और बाकी सामान यहीं छोड़ दिया।

पुलिस की जांच में पता चला कि 26 मई
को श्रद्धा के नेट बैंकिंग अकाउंट ऐप से आफताब
के अकाउंट में 54 हजार रुपये ट्रांसफर हुए थे।

जबकि आफताब ने कहा कि वो 22 मई
के बाद से श्रद्धा के संपर्क में नहीं था। वहीं,
31 मई को एक दोस्त ने श्रद्धा से इंस्टाग्राम
अकाउंट के जरिए बात की थी।

पुलिस ने सवाल किया कि अगर श्रद्धा
अपने साथ फोन लेकर गई थी, तो उसका लोकेशन महरौली कैसे शो कर रहा है। सख्ती करने पर आफताब ने अपना जुर्म कबूल लिया।

लाइफ & स्टाइल की और
स्टोरीज के लिए क्लिक करें

Click Here