एम्स ने शुरू किया 'सुरक्षित छज्जा,
सुरक्षित बच्चा' कैंपेन

बालकनी से गिरकर हर
महीने 12 बच्चे गंवा रहे जान

एम्स की तरफ से 'सुरक्षित छज्जा, सुरक्षित
 बच्चा' कैंपेन की शुरुआत की गई है।

डाटा की मानें तो एम्स ट्रॉमा सेंटर में औसतन
हर महीने 10 से 12 बच्चे बालकनी से
 गिरकर इलाज के लिए पहुंचते हैं।

ज्यादातर बच्चों में चोट सीवियर होती है,
जिसकी वजह से हर महीने दो से तीन
बच्चों की मौत भी हो जाती है।

डॉक्टरों का कहना है कि यह एक ऐसी
लापरवाही और जागरूकता की कमी है, जिसमें सुधार कर इस घटना को रोका जा सकता है।

इस कैंपेन के जरिए पेरेंट्स को छज्जे की
रेलिंग पर जाल लगाने, रेलिंग की ऊंचाई ज्यादा
रखने, बच्चों के खेलने के लिए बालकनी का
इस्तेमाल न करने देने जैसी बातों पर ध्यान
आकर्षित किया जा रहा है।

लाइफ & स्टाइल की और
स्टोरीज के लिए क्लिक करें

Click Here