छह साल में बदली किस्मत 

इंडियन वुमन हॉकी की नई
सनसनी ब्यूटी डुंगडुंग 

झारखंड के सिमडेगा की रहने वाली ब्यूटी
डुंगडुंग सुविधाओं के अभाव के बावजूद इंडियन
वुमन हॉकी टीम में चुनी गईं। वो स्पेन में होने
वाले FIH वुमंस नेशंस कप में खेलेंगी। 

ब्यूटी के दादा, पिता, चाचा और भाई भी
हॉकी प्लेयर रहे। ब्यूटी ने 6-7 साल की उम्र
से ही हॉकी खेलना शुरू कर दिया था। 

गांव के ही स्कूल आरसी उत्क्रमित मध्य
विद्यालय करंगागुरी में पढ़ाई की। स्कूल में हॉकी
स्टिक लेकर नहीं जाने पर मार पड़ती थी। 

घर में सभी हॉकी के प्लेयर रहे, बावजूद
परिवार की आर्थिक स्थिति खराब रही। उनके
पापा ने खेती की जमीन गिरवी रख ब्यूटी
को खेलने के लिए भेजा।

कोविड के दौर में स्थिति इतनी खराब हुई
कि दूसरे के खेतों में काम करना पड़ा। धान
रोपनी कर 50-100 रुपए मिल जाते थे।

2019 में जब इंडिया कैंप जूनियर के लिए
सिलेक्शन हुआ तब ब्यूटी के पास पैसे नहीं थे।
झारखंड की कोच ने उसे 15,000 दिए थे।

जब गांव में शॉर्ट्स पहन कर हॉकी की
प्रैक्टिस करती तो लोग ताने देते कि इतने छोटे
कपड़े पहनती हो। लेकिन इन सबको दरकिनार
कर ब्यूटी आगे बढ़ती रही। 

2019 में इंडियन जूनियर वुमंस नेशनल
कैंप के लिए ब्यूटी सेलेक्ट हुई थी। आयरलैंड,
बेलारूस और ऑस्ट्रेलिया के दौरे पर
उनका शानदार प्रदर्शन रहा। 

लाइफ & स्टाइल की और
स्टोरीज के लिए क्लिक करें

Click Here