'इंटरनेट ब्रेक' जरूरी

सांगली जिले का एक गांव बना मिसाल

महाराष्ट्र के सांगली जिले के बडगांव में लोगों
को मोबाइल फोन और टीवी की लत से बचाने
की पहल मिसाल बन गई है।

लोगों ने आपसी सहमति से रोजाना शाम को
एक निश्चित अवधि के लिए इंटरनेट ब्रेक
घोषित किया है। ब्रेक में लोग एक-दूसरे से
मिलते हैं, बातें करते हैं और पढ़ते हैं।

ग्राम परिषद के अध्यक्ष मोहिते का कहना है
कि जब इस पर चर्चा की, तब पुरुषों ने
मजाक बनाया, जबकि महिलाएं इसके
लिए तुरंत सहमत हो गईं।

फिर एक बैठक की गई, जिसमें सायरन
लगाना तय किया गया। हर दिन ब्रेक शुरू
होने और ब्रेक खत्म होने पर सायरन बजता है।

सांगली जिले के बडगांव के लोगों के इस
फैसले की जमकर सराहना हो रही है। लोग
इनसे सीख लेने की बात कर रहे हैं।

लाइफ & स्टाइल की और
स्टोरीज के लिए क्लिक करें

Click Here