भारत में सेम सेक्स मैरिज के मुद्दे
पर सुप्रीम कोर्ट ने शुरू की सुनवाई

33 देशों में समलैंगिक
विवाह को कानूनी दर्जा

2001 में नीदरलैंड ने गे व लेस्बियन कपल्स
को शादी के लिए अनुमति दी थी। ऐसा कानून
बनाने वाला नीदरलैंड दुनिया का पहला देश है

ताइवान ने 2019 में सेम सेक्स मैरिज को मान्यता
 दी थी। समलैंगिक विवाह के लिए कानून बनाने
 वाला ताइवान एशिया का इकलौता देश है

दिसंबर 2022 में अमेरिका में सेम सेक्स मैरिज प्रोटेक्शन बिल पास किया गया, जिसके बाद
वहां समलैंगिक कपल्स की शादी लीगल हो सकी

कोलंबिया, अमेरिका, ब्राजील, फ्रांस,
ऑस्ट्रिया, इक्वाडोर, कोस्टा रिका जैसे कई
 देशों में कोर्ट के दखल के बाद समलैंगिक
 विवाह की अनुमति मिली है

भारत में साल 2018 में समलैंगिकता को
 अपराध मानने वाला कानून रद्द किया गया
था, लेकिन समलैंगिक विवाह को कानूनी
 मान्यता नहीं मिली है

लाइफ & स्टाइल की और
स्टोरीज के लिए क्लिक करें

Click Here