63 साल तक गाने पर लगा रहा बैन

गाना जिसे सुनकर 200 लोगों ने आत्महत्या की

अधूरी प्रेम कहानी पर लिखा गया 
गाना  दुनिया के लिए बना जानलेवा।

हंगरेरियन लैंग्वेज  का गाना 'ग्लूमी संडे'
 इतना डिप्रेसिंग था कि इसे सुनकर
200 से ज्यादा लोगों ने आत्महत्या की थी।

कई लोगों के सुसाइड नोट में इस गाने
की लाइनें लिखी मिली या उनके कमरे में उस
गाने की रिकॉर्डिंग पाई गई।

गाना बनाने वाले कलाकार ने बिजली के तार से गला घोंटकर सुसाइड कर लिया था। जिस गर्लफ्रेंड के लिए गाना लिखा, उसने भी
आत्महत्या की थी।

गाने को सुनकर जान देने के बढ़ते मामले 
देखकर गाने पर बैन लगा और
 63 साल तक ये बैन जारी रहा।

11 जनवरी 1968 ऑरिजिनल ग्लूमी संडे
के कंपोजर रेज्सो सेरेस ने आत्महत्या कर ली।
उन्होंने खुदकुशी के लिए रविवार का दिन ही चुना।

इस गाने के इतिहास पर फिल्म भी बनी।
21 अक्टूबर 1999 को हंगरी, जर्मनी में
फिल्म ग्लूमी संडे रिलीज हुई।

ये फिल्म ग्लूमी संडे गाने के डरावने
इतिहास और उसके कंपोजर रेज्सो सेरेस और
उनकी अधूरी लव स्टोरी के इर्द-गिर्द बनी है।

लाइफ & स्टाइल की और
स्टोरीज के लिए क्लिक करें

Click Here