भारतीय मूल की बहनों ने बनाई
लेटर अंगेस्ट आइसोलेशन संस्था

कोरोना के बाद बुजुर्गों को
लिखीं 2 लाख चिट्ठियां

भारतीय मूल की दो अमेरिकी बहनें- श्रेया पटेल
और सेफ्रॉन दुनियाभर के बुजुर्गों को चिट्ठी
लिखकर उनका अकेलापन दूर कर रही हैं।

वे अब तक 15 लाख चिट्ठियां लिख चुकी हैं।
दरअसल, दोनों बहनें 2020 की शुरुआत के बाद
अपने दादा-दादी के साथ समय नहीं बिता पाईं।

श्रेया बताती हैं कि एक दिन मेरी दादी के एक
दोस्त ने उन्हें चिट्‌ठी लिखी, जिसके बाद हमने
लेटर अंगेस्ट आइसोलेशन संस्था की शुरुआत की।

इस संस्था ने अब तक 7 देशों में
5 लाख से ज्यादा लोगों को चिट्‌ठी
लिखने के लिए प्रेरित किया।

श्रेया कहती हैं कि ‘शुरुआती हफ्ते में ही हम
200 से ज्यादा वरिष्ठ नागरिकों को चिटि्ठयां लिख चुके थे। अब संस्था के 40 हजार वॉलंटियर्स हैँ।

लाइफ & स्टाइल की और
स्टोरीज के लिए क्लिक करें

Click Here